दंतेवाड़ा पहुंचे पीएम ने अपने आप को बताया सौभाग्‍यशाली

DoThe Best
By DoThe Best May 9, 2015 13:48

दंतेवाड़ा पहुंचे पीएम ने अपने आप को बताया सौभाग्‍यशाली

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार को नक्सलियों के गढ़ कहे जाने वाले छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा के दाैरे पर हैं। दंतेवाड़ा पहुंचने के बाद पीएम ने लोगों का अभिवादन किया। उन्होंने कहा कि आज मेरा सौभाग्य है कि मुझे आने का मौका मिला।

उन्होंने कहा कि पहले छत्तीसगढ़ में विकास का काम बहुत धीमा था और लोग निराशा में डूबे हुए थे लेकिन रमन सिंह ने निराशा के अंधेरे को दूर किया। मोदी ने कहा कि यहां रेल लाइन बिछने से यहां का विकास होगा। उन्होंने कहा कि गरीब की झोंपड़ी तक विकास पहुंचना चाहिए।

पीएम ने नक्सलियों से कहा कि ‘एक प्रयास करिये, कंधे से बंदूक नीचे रखिए और वापस आइये। अपने बच्चे से बात कीजिए, मुझे यकीन है उसकी बातें आपको हिंसा छोड़ने के लिए बाध्य कर देंगी।’ मोदी ने कहा कि जहां से इसकी शुरुआत हुई थी उस नक्सलबाड़ी के लोग भी हिंसा छोड़ चुके हैं।

इससे पहले प्रधानमंत्री ने नक्सल प्रभावित इलाकों के बच्चों से बात की और उनके सवालों का जवाब अपने अंदाज में दिया। दंतेवाड़ा के लिवलीहुड कॉलेज पहुंचे पीएम नरेंद्र मोदी का स्वागत छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह ने किया।

इस दौरे के दौरान मोदी करीब 24 हजार करोड़ रुपये की लागत से बनी दो योजनाओं का उद्घाटन करेंगे। मोदी का रायपुर दौरा आंधी-तूफान की वजह से रद्द हो गया है। रायपुर में मोदी के लिए बन रहा मंच गिर जाने से करीब 55 लोग जख्मी हो गये हैं।

पीएम के नक्सलियों के गढ़ दंतेवाड़ा दौरे की सबसे दिलचस्प बात ये है कि करीब 30 साल बाद देश का काेई प्रधानमंत्री नक्सली प्रभावित दंतेवाड़ा के दौरे पर जा रहा है। इस दौरे के दौरान प्रधानमंत्री आधा दर्जन कार्यकमों में हिस्सा लेंगे। प्रधानमंत्री के इस दौरे का विरोध भी हो रहा है। नक्सलियों और कांग्रेस ने प्रधानमंत्री के इस दौरे का विरोध करना शुरू कर दिया गया है।

छाञों से रु-ब-रु मोदी
दंतेवाड़ा में मुख्यमंत्री रमन सिंह के साथ प्रधानमंत्री मोदी एजुकेशन सिटी के ऑडिटोरियम में छात्रों से बात किया। पीएम मोदी ने एक छाञ के सवाल के जवाब में कहा कि कई बार खुद की घटनाओं से ज्यादा, आैरों की घटनाओं से प्रेरणा मिलती है। उन्होंने छाञों से कहा, आप सब ये पुस्तक Pollyanna जरुर पढ़े। मैंने इसे बचपन में पढ़ा था।

मोदी से छाञों के सवाल-जवाब…

किस घटना से आपको प्रेरणा मिली?

ज्यादातर ऐसा होता है, जब खुद के अनुभव से ज्यादा दूसरों के अनुभव आपको निखारते हैं।

अगर आप राजनीति में नहीं होते, तब क्या बनते?

जीवनभर बालक बनकर रहना चाहता हूं।

एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि मैं नहीं समझता कि जीवन को कामयाबी की चमक से तौला जाए। जब हम ऐसा करते हैं, निराशा में घिर जाते हैं। उन्होंने कहा कि सपने देखने हैं तो बनने के कम, करने के ज्यादा देखो। सफल होना है तो हमें पता हो कि कहां जाना है।

काम के तनाव का सामना आप कैसे करते हैं?

मैं कभी इसकी गिनती नहीं करता कि कितने घंटे काम करता हूं क्योंकि जब कोई ऐसा करता है, आनंद दूर हो जाता है। काम की थकान कभी नहीं होती, काम ना करने की थकान होती है।

पीएम ने कहा- सपने देखने हैं तो बनने के कम, करने के ज्यादा देखो। सफल होना है तो हमें पता हो कि कहां जाना है।

दो बड़ी परियोजनाओं का करेंगे उद्घाटन
प्रधानमंत्री इस दौरे के दौरान छत्तीसगढ के बस्तर जिले में स्थित दंतेवाड़ा के डिलमिल गांव में एक स्टील प्लांट का उद्घाटन करेंगे। जिसके बाद मोदी रावघाट से जगदलपुर के बीच बनी 140 किलोमीटर की रेलवे लाइन का भी उद्घाटन करेंगे।

सुरक्षा के कड़े इंतजाम
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के छत्तीसगढ़ दौरे के लिए सुरक्षा के कड़े इंतजाम किये गये हैं। शुक्रवार को नक्सलियों के विरोध प्रदर्शन के बाद आइबी ने राज्य में हाई अलर्ट घोषित कर दिया है। पहरा और कड़ा कर दिया गया है। 12 किलोमीटर की सड़क यात्रा में प्रधानमंत्री की सुरक्षा में 11 हजार जवान तैनात रहेंगे। वह 17 स्तरीय सुरक्षा घेरे में रहेंगे। प्रधानमंत्री बनने के बाद नरेंद्र मोदी का राज्य में यह पहला दौरा है।

नक्सलियों ने टांगे प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री के पुतले
प्रधानमंत्री दौरे से पहले शुक्रवार सुबह नक्सलियों ने दोरनापाल में पर्चे फेंक कर 8 और 9 मई को दंडकारण्य बंद का ऐलान किया। नक्सलियों ने पेड़ों की टहनियां गिरा कर रोड ब्लॉक कर दिए और वहां प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री के पुतलों को फांसी से लटका दिया। नक्सलियों ने बैनर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को ‘तानाशाह’ बताया है और ग्रामीणों से मोदी सरकार का विरोध करने की अपील की है। इसके बाद इंटेलीजेंस ब्यूरो ने पीएम के दौरे पर प्रदेश में हाई अलर्ट जारी कर दिया।

बंगाल में तीन योजनाओं की शुरुआत करेंगे मोदी
पीएम छत्तीसगढ़ के बाद कोलकाता के लिए रवाना होंगे जहां वो तीन योजनाओं का उद्घाटन करेंगे। मोदी कोलकाता के बेलूर मठ भी जाएंगे जहां वो अपने पुराने गुरु से मुलाकात करेंगे। प्रधानमंत्री बनने के बाद पहली बार दो दिवसीय दौरे पश्चिम बंगाल आ रहे नरेंद्र मोदी शनिवार शाम कोलकाता पहुंचकर प्रधानमंत्री नजरूल मंच से सामाजिक सुरक्षा योजनाओं का उद्घाटन करेंगे।

शाम 5.15 बजे नेताजी सुभाष चंद्र बोस अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर मोदी विशेष विमान से उतरेंगे। उनका स्वागत करने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, राज्यपाल केसरी नाथ त्रिपाठी समेत कई राजनेता मौजूद रहेंगे। यहां से पीएम छह बजे नजरूल मंच पहुंचेंगे और सुरक्षा बीमा योजना, जीवन ज्योति बीमा योजना व अटल पेंशन योजना की शुरुआत करेंगे। कार्यक्रम में कई केंद्रीय मंत्रियों की भी उपस्थिति होगी।

बेलूर मठ में अपने बीमार गुरु से मिलेंगे
यहां से मोदी अपने बीमार गुरु व रामकृष्ण मठ के अध्यक्ष स्वामी आत्मस्थानंद महाराज को देखने शरत बोस रोड स्थित रामकृष्ण सेवा प्रतिष्ठान अस्पताल जाएंगे। विश्राम के दौरान राजभवन में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी उनसे मुलाकात करेंगी। पीएम की सुरक्षा को लेकर कड़ी चौकसी बरती जा रही है। दूसरे दिन रविवार सुबह मोदी बेलूर मठ जाएंगे।

DoThe Best
By DoThe Best May 9, 2015 13:48
Write a comment

No Comments

No Comments Yet!

Let me tell You a sad story ! There are no comments yet, but You can be first one to comment this article.

Write a comment
View comments

Write a comment

Your e-mail address will not be published.
Required fields are marked*

two × five =