विश्व व्यापार संगठन (WTO) क्या है?

DoTheBest
By DoTheBest May 8, 2015 18:59

विश्व व्यापार संगठन (WTO), अनेक देशों के बीच व्यापार के नियमों के सन्दर्भ में एक संगठन है जोकि उनके मध्य के अनेक व्यापारिक गठ्विधियों को अंजाम देने में न केवल मदद करता है बल्कि व्यापारिक कार्यक्रमों के संदर्भ में अनेक गतिविधीयों को अंजाम देता है. यह विश्व के देशों के बीच एक व्यापार के सन्दर्भ में वैश्विक अंतरराष्ट्रीय संगठन है. यह समझौतों के माध्यम से अपनी व्यापरिक गतिविधियों को सम्पादित करता है जोकि इन्हीं देशों के सामूहिक हस्ताक्षर के द्वारा प्रकाश में आये हुए रहते हैं. इस संस्था में लागू किये जाने वाले क़ानून उन देशों की सांसदों में पारित किये हुए रहते हैं. इस संस्था का मूल उद्देश्य व्यवसायिक गतिविधियों को अंजाम देने.माल और सेवाओं के आयात करने, आयातकों और निर्यातकों को अनेक सुविधाएं देने आदि के सन्दर्भ में अनेक सुविधायें उपलब्ध कराता है.

विश्व व्यापार संगठन के कार्य

विश्व व्यापार संगठन के कुछ महत्वपूर्ण कार्यों का उल्लेख निम्नलिखित प्रकार से किया जा सकता है.

  • यह विश्व व्यापार समझौता एवं बहुपक्षीय तथा बहुवचनीय समझौतों के कार्यन्वयन,प्रशासन एवं परिचाल हेतु सुबिधाएं प्रदान करता है.
  • व्यापार और प्रशुल्क से सम्बंधित किसी भी भावी मसाले पर सदस्यों के बीच विचार-विमर्श हेतु एक मंच के रूप में कार्य करता हैं.
  • विवादों के निपटारे से सम्बंधित नियमों एवं प्रक्रियाओं को प्रशासित करता है.
  • वैश्विक आर्थिक निति निर्माण में अधिक सामंजस्य भाव लाने ले लिए अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष एवं विश्व वैंक से सहयोग करता है.

विश्व व्यापार संगठन की सदस्यता और मुख्यालय- 

विश्व व्यापार संगठन (अंग्रेज़ी:वर्ल्ड ट्रेड आर्गेनाइजेशन (डब्ल्यू टी ओ)) विश्व की सबसे प्रमुख मौद्रिक संस्था है जो विश्व व्यापार के लिये दिशा निर्देशों को जारी करती है और सदस्य देशों को जरुरत के मुताबिक ॠण उपलब्ध कराती है. यह नए व्यापार समझौतों में बदलाव और उन्हें लागू कराने के लिए उत्तरदायी है. भारत भी इसका एक सदस्य देश है. डब्ल्यूटीओ में 160 सदस्य हैं। चीन इसमें 2001 में शामिल हुआ था. डब्ल्यूटीओ की सबसे बड़ी संस्था मंत्रिस्तरीय सम्मेलन (मिनिस्ट्रयल कॉन्फ्रेंस) है. यह प्रत्येक दो वर्ष में अन्य कार्यों के साथ संस्था के महासचिव और मुख्य प्रबंधकर्ता का चुनाव करती है. साथ ही वह सामान्य परिषद (जनरल काउंसिल) का काम भी देखती है. सामान्य परिषद विभिन्न देशों के राजनयिकों से मिल कर बनती है जो प्रतिदिन के कामों को देखता है. डब्लयूटीओ का मुख्यालय जेनेवा, स्विट्जरलैंडमें है। इसके वर्तमान महानिदेशक राबर्ट एज्बेड़ो हैं. अब तक इसके छह मंत्रिस्तरीय सम्मेलन (मिनिस्ट्रियल कॉन्फ्रेंस) हो चुके हैं.

DoTheBest
By DoTheBest May 8, 2015 18:59
Write a comment

No Comments

No Comments Yet!

Let me tell You a sad story ! There are no comments yet, but You can be first one to comment this article.

Write a comment
View comments

Write a comment

Your e-mail address will not be published.
Required fields are marked*

10 − nine =