एशेज सीरिज: 127 साल बाद ऑस्ट्रेलिया का शर्मनाक कारनामा

DoThe Best
By DoThe Best August 7, 2015 11:52

एशेज सीरिज: 127 साल बाद ऑस्ट्रेलिया का शर्मनाक कारनामा

जेम्स एंडरसन की गैरमौजूदगी में इंग्लैंड टीम के गेंदबाजी आक्रमण की अगुवाई कर रहे स्टुअर्ट ब्रॉड (15 पर 8) ने चौथे एशेज टेस्ट के पहले ही दिन ऑस्ट्रेलियाई टीम को पहली पारी में महज 60 रन पर ढेर कर दिया। ब्रॉड ने अपने करियर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन यहां किया। टॉस जीतकर इंग्लिश कप्तान एलेस्टेयर कुक का पहले फील्डिंग करने का फैसला सही साबित हुआ और ऑस्ट्रेलियाई टीम 18.3 ओवर में 60 रन ही बना सकी। इसके जवाब में इंग्लैण्ड ने पहले दिन का खेल खत्म होने तक जो रूट के नाबाद शतक(124) की मदद से चार विकेट खोकर 274 रन बना लिए थे और उसके बाद 214 रन की बढ़त है।

ब्रॉड के 300 विकेट पूरे

ब्रॉड ने गुरूवार को यहां अपनी तीसरी गेंद पर विकेट लेने के साथ ही टेस्ट क्रिकेट में 300 विकेट पूरे करने की उपलब्धि अपने नाम कर ली। करियर का 83वां टेस्ट खेल रहे ब्रॉड 300 विकेट लेने वाले इंग्लैंड के पांचवें गेंदबाज बनगए हैं। उनके अलावा जेम्स एंडरसन, इयान बाथम, बॉब विलिस और फ्रेड ट्रूमैन के नाम यह उपलब्धि दर्ज है।

टेस्ट क्रिकेट में सबसे छोटी पहली पारी

ऑस्ट्रेलिया के पहले पांच विकेट केवल 25 गेंदों में गिर गए जो कि 2002 के बाद यह पहली बार है जब किसी टीम के टॉप-5 विकेट इतनी तेजी से गिरे हैं। ऑस्ट्रेलिया की पारी केवल 111 गेंद चली जो कि टेस्ट क्रिकेट में सबसे छोटी पहली पारी है। हालांकि ऑस्ट्रेलिया 1936 में केवल 99 गेंद खेलकर ही सिमट गई थी।

विश्व रिकॉर्ड की बराबरी

ब्रॉड ने 19 गेंदों के अंतराल में पांच विकेट लेकर सबसे तेज पांच विकेट लेने के विश्व रिकॉर्ड की बराबरी कर ली। उन्होंने जब पांचवां विकेट हासिल किया तो उन्होंने एर्नी तोशाक की बराबरी की। ऑस्ट्रेलिया के तोशाक ने नवम्बर 1947 में भारत के खिलाफ दो रन पर पांच विकेट लिए थे। उस समय आठ गेंदों का एक ओवर होता था और तोशाक ने 2.3 ओवर में ही पांच विकेट झटक लिए थे।

10 साल बाद पहले ओवर में दो विकेट

2002 के बाद किसी गेंदबाज ने पहले ही ओवर में दो विकेट चटकाए हैं। स्टुअर्ट ब्रॉड ने कंगारू टीम की पारी के पहले ओवर की तीसरी और छठी गेंद पर क्रिस रोजर्स और स्टीवन स्मिथ को चलता किया। इससे पहले भारत के इरफान पठान ने 2006 में पाकिस्तान के खिलाफ और न्यूजीलैण्ड के क्रिस कैर्न्स ने इंग्लैण्ड के खिलाफ 2002 में किया था।

एशेज में छठा न्यूनतम स्कोर

ऑस्ट्रेलियाई टीम शर्मनाक ढंग से इंग्लैंड के खिलाफ संयुक्त रूप से अपने छठे न्यूनतम स्कोर पर आउट हो गई। ऑस्ट्रेलिया का इंग्लैंड के खिलाफ एक पारी में न्यूनतम स्कोर 23 ओवर में 36 रन है। मई 1902 में इंग्लैंड टीम ने बर्मिघम में यह कारनामा किया था। एशेज सीरीज में ऑस्ट्रेलिया के निम्नतम स्कोर…

रन – ओवर – स्थान – वर्ष

36 23.0 बर्मिघम 1902

42 37.3 सिडनी 1988

44 26.0 ओवल 1896

53 22.3 लॉड्र्स 1896

58 12.3 ब्रिस्बेन 1936

60 29.2 लॉड्र्स 1888

60 18.3 नॉटिंघम 2015

DoThe Best
By DoThe Best August 7, 2015 11:52
Write a comment

No Comments

No Comments Yet!

Let me tell You a sad story ! There are no comments yet, but You can be first one to comment this article.

Write a comment
View comments

Write a comment

Your e-mail address will not be published.
Required fields are marked*

1 × 1 =