Back to homepage

Indian GK

मराठों का उत्थान

मराठों का उत्थान

मराठों का उत्थान महाराष्ट्र में रहने वाले और मराठी बोलने वाले भारतवासी मराठा कहलाते हैं. महाराष्ट्र प्रदेश एक त्रिभुजाकार पठार और चारों ओर पहाड़ों से घिरा हुआ है. यह प्रदेश पहाड़ों, वनों और अनेक स्थानों पर ऊबड़-खाबड़ होने के कारण

Read Full Article
जल और भारत का भविष्य

जल और भारत का भविष्य

जल और भारत का भविष्य भारत को बहुत तेजी से पुरानी व्यवस्था को बदलकर नई व्यवस्था अपनानी चाहिए और नई पीढ़ी को पानी के मामले में मुश्किल भविष्य का सामना करने के लिए तैयार करना चाहिए। भारत जल के वैश्विक

Read Full Article
खेड़ा सत्याग्रह – एक किसान आन्दोलन 1918

खेड़ा सत्याग्रह – एक किसान आन्दोलन 1918

खेड़ा सत्याग्रह – एक किसान आन्दोलन 1918 आज हम खेड़ा सत्याग्रह (Kheda Movement) के विषय में पढ़ने वाले हैं. खेड़ा एक जगह का नाम है जो गुजरात में है. चंपारण के किसान आन्दोलन के बाद खेड़ा (गुजरात) में भी 1918

Read Full Article
In Aanchal Thakur, India gets its first ever international skiing medalist

In Aanchal Thakur, India gets its first ever international skiing medalist

In Aanchal Thakur, India gets its first ever international skiing medalist Resident of Barua, a small village in Manali, Aanchal Thakur on Tuesday created history by becoming India’s first ever medallist in an international skiing event when she won a

Read Full Article
After Pact With China That Upset India, Maldives Seeks To Mend Ties

After Pact With China That Upset India, Maldives Seeks To Mend Ties

After Pact With China That Upset India, Maldives Seeks To Mend Ties A month after Maldives signed a Free Trade Agreement (FTA) with China, a move that did not quite go down well with India, its foreign minister Mohamed Asim

Read Full Article
लाला लाजपत राय का जीवन और भारतीय इतिहास में उनका स्थान

लाला लाजपत राय का जीवन और भारतीय इतिहास में उनका स्थान

लाला लाजपत राय का जीवन और भारतीय इतिहास में उनका स्थान कांग्रेस के उग्रवादी नेताओं में लाला लाजपत राय का बहुत ही महत्त्वपूर्ण स्थान है. तिलक की ही भाँति पंजाब में लाला लाजपत राय ने नयी सामाजिक और राजनीतिक चेतना

Read Full Article
बौद्ध धर्म के विषय में संक्षिप्त जानकारी

बौद्ध धर्म के विषय में संक्षिप्त जानकारी

बौद्ध धर्म के विषय में संक्षिप्त जानकारी गौतम बुद्ध का जन्म बौद्ध धर्म के संस्थापक गौतम बुद्ध थे. गौतम बुद्ध का जन्म 567 ई.पू.  कपिलवस्तु के लुम्बनी नामक स्थान पर हुआ था. इनके बचपन का नाम सिद्धार्थ था. गौतम बुद्ध

Read Full Article
बाल गंगाधर तिलक का भारतीय राष्ट्रीय आन्दोलन में योगदान

बाल गंगाधर तिलक का भारतीय राष्ट्रीय आन्दोलन में योगदान

बाल गंगाधर तिलक का भारतीय राष्ट्रीय आन्दोलन में योगदान भारत के राष्ट्रीय आन्दोलन के इतिहास में लोकमान्य बाल गंगाधर तिलक का विशिष्ट स्थान है. उग्र राष्ट्रीयता सर्वप्रथम महाराष्ट्र में प्रारम्भ हुई जो तिलक जैसे कर्मठ नेता तथा देशभक्त को पाकर

Read Full Article
बेसिन की संधि, 1802 का भारतीय इतिहास में महत्त्व

बेसिन की संधि, 1802 का भारतीय इतिहास में महत्त्व

बेसिन की संधि, 1802 का भारतीय इतिहास में महत्त्व अठारहवीं सदी के आते-आते मराठा साम्राज्य की आंतरिक एकता छिन्न-भिन्न हो गयी और विकेंद्रीकरण की शक्ति प्रबल हो गयी थी. जब मराठा संघ ऐसी बुरी स्थिति से गुजर रहा था तो

Read Full Article
बिंदुसार (298 ई.पू. – 273 ई.पू.) का जीवन

बिंदुसार (298 ई.पू. – 273 ई.पू.) का जीवन

बिंदुसार (298 ई.पू. – 273 ई.पू.) का जीवन चन्द्रगुप्त के बाद उसका पुत्र बिंदुसार (Bindusara) सम्राट बना. आर्य मंजुश्री मूलकल्प के अनुसार जिस समय चन्द्रगुप्त ने उसे राज्य दिया उस समय वह अल्प-व्यस्क था. यूनानी लेखकों ने उसे अमित्रोचेडस (Amitrochades)

Read Full Article
भारत में जलक्षेत्र के निजीकरण और बाजारीकरण के प्रभाव

भारत में जलक्षेत्र के निजीकरण और बाजारीकरण के प्रभाव

भारत में जलक्षेत्र के निजीकरण और बाजारीकरण के प्रभाव 1991 से भारतीय अर्थव्यवस्था के प्रत्येक क्षेत्र में उदारीकरण, निजीकरण और भूमण्डलीकरण द्वारा बड़े बदलाव शुरू किए गए। बिजली के क्षेत्र में ये बदलाव प्रारंभ से ही लागू हो गए थे

Read Full Article
सिख धर्म का संक्षिप्त इतिहास और व्यापक जानकारी

सिख धर्म का संक्षिप्त इतिहास और व्यापक जानकारी

सिख धर्म का संक्षिप्त इतिहास और व्यापक जानकारी सिख धर्म के लोग गुरुनानक देव के अनुयायी हैं. गुरुनानक देव का कालखंड 1469-1539 ई. है. सिख धर्म के लोग मुख्यतया पंजाब में रहते हैं. वे सभी धर्मों में निहित आधारभूत सत्य में

Read Full Article
पबना विद्रोह 1873-76

पबना विद्रोह 1873-76

पबना विद्रोह 1873-76 19वीं शताब्दी के उत्तरार्ध में बंगाल के पबना नामक जगह में भी किसानों ने जमींदारी शोषणों के विरुद्ध विद्रोह किया था. पबना राजशाही राज की जमींदारी के अन्दर था और यह वर्धमान राज के बाद सबसे बड़ी जमींदारी थी. उस

Read Full Article
भारत की नदियां

भारत की नदियां

भारत की नदियां वर्गीकृत किया जा सकता है जैसे, हिमाचल से निकलने वाली नदियाँ, डेक्‍कन से निकलने वाली नदियाँ, तटवर्ती नदियाँ ओर अंतर्देशीय नालों से द्रोणी क्षेत्र की नदियाँ। हिमालय से निकलने वाली नदियाँ बर्फ और ग्‍लेशियरों के पिघलने से बनी

Read Full Article
घाघरा का युद्ध

घाघरा का युद्ध

घाघरा का युद्ध आज हम घाघरा के युद्ध (Battle of Ghaghra in Hindi) के विषय में पढ़ने वाले हैं. यह युद्ध 1529 ई. में बाबर और अफगानों के बीच लड़ा गया था. यह युद्ध पानीपत युद्ध (1526) और खनवा के युद्ध (1527)

Read Full Article