Back to homepage

Rajasthan GK

What are the Functions and Powers of the Indian Parliament?

What are the Functions and Powers of the Indian Parliament?

The main Functions and Powers of the Indian Parliament are : Functions and Powers of the Indian Parliament The Constitution of India enumerates the powers and functions of the Indian Parliament in Chapter II of Part V of the constitution.

Read Full Article
26 Dead As A Wall Of Wedding Hall Collapses In Rajasthan’s Bharatpur

26 Dead As A Wall Of Wedding Hall Collapses In Rajasthan’s Bharatpur

26 Dead As A Wall Of Wedding Hall Collapses In Rajasthan’s Bharatpur JAIPUR:  A wedding was going on in the hall when storm hit the area, police said Entire structure of wall and a tin shed collapsed and people got

Read Full Article
Prithviraj chauhan biography

Prithviraj chauhan biography

 Prithviraj chauhan biography Prithviraj chauhan पृथ्वीराज चौहान (सन् 1178-1192) चौहान वंश के हिंदू क्षत्रिय राजा थे जो उत्तरी भारत में 12 वीं सदी के उत्तरार्ध में अजमेर और दिल्ली पर राज्य करते थे। पृथ्वीराज चौहान का जन्म अजमेर राज्य के राजा

Read Full Article
Won’t tolerate Alwar lynching-like incidents: Rajasthan CM Vasundhara Raje

Won’t tolerate Alwar lynching-like incidents: Rajasthan CM Vasundhara Raje

Won’t tolerate Alwar lynching like incidents      CM Vasundhara Raje tolerate Jaipur (Rajasthan): Days after a 55-year-old dairy farmer died after allegedly being attacked by cow vigilantes in Alwar, Rajasthan Chief Minister Vasundhara Raje on Tuesday said such incidents

Read Full Article
history of beawar city

history of beawar city

history of beawar city beawar Beawar (pronounced [/bəˈjaːʋər/]) is a city in Rajasthan, India. Beawar was the financial capital of Merwara (मेरवाड़ा) state of Rajputana. As of 2011, the population of Beawar is 342,935.[1] It is located 184 kilometres (114 mi) southwest

Read Full Article
Medieval period in Rajasthan

Medieval period in Rajasthan

Medieval period in Rajasthan Prithviraj Chauhan defeated the invading Muhammad Ghori in the First Battle of Tarain in 1191 and in fifteen further battles before himself being defeated when he was betrayed by one of his own. After the defeat

Read Full Article

हिन्दू धर्म के सोलह संस्कार (Hindu Dharma Ke Solah Sanskar)

शास्त्रों के अनुसार मनुष्य जीवन के लिए कुछ आवश्यक नियम बनाए गए हैं जिनका पालन करना हमारे लिए आवश्यक माना गया है। मनुष्य जीवन में हर व्यक्ति को अनिवार्य रूप से सोलह संस्कारों का पालन करना चाहिए। यह संस्कार व्यक्ति

Read Full Article

Rajasthan: Natural Forests

The floral prosperity of Rajasthan state is affluent and diverse. The western part is partly desert terrain; the majority of the vicinity under forests is constrained to Southern and Eastern parts of Rajasthan. The forests in Rajasthan are erratically disseminated

Read Full Article

Rajasthan: Wildlife

The searing, arid weather of Rajasthan, its immense sandy regions, mountainous swathe and plentiful rivers, water bodies and lakes offer sundry habitation conditions apposite for numerous genuses of reptiles which comprises of snakes, crocodiles, turtles and lizards. Two species of

Read Full Article

Public Sector Enterprises in Rajasthan: RIICO

About Rajasthan State Industrial Development & Investment Corporation Ltd.   RIICO is the solitary government organization in Rajasthan implicated in expansion of land for industrial endeavors. Small scale, medium scale and large scale projects get an uncomplicated contact to an

Read Full Article

Rajasthan: Department of Local Self Government

The Department of local self Government is the scheming Department of all towns for all organizational rationale. It also carries out observing and harmonization role at state level for all 184 municipal corporations of Rajasthan state. Department of Local Self

Read Full Article

सामान्य ज्ञान क्विज

भारत में सबसे कम वर्षा वाला स्थान है – लेह बीकानेर जैसलमेर चेरापूंजी उत्तर : लेह भारतीय संविधान के निम्नलिखित भागों में से किस एक में न्यायपालिका तथा कार्यपालिका के पार्थक्य का प्रावधान है? प्रस्तावना मूल अधिकार राज्य के नीति निर्देशक

Read Full Article

राजस्थान की नदियां

१) चम्बल नदी –   इस नदी का प्राचीन नाम चर्मावती है। कुछ स्थानों पर इसे कामधेनु भी कहा जाता है। यह नदी मध्य प्रदेश के मऊ के दक्षिण में मानपुर के समीप जनापाव पहाड़ी (६१६ मीटर ऊँची) के विन्ध्यन

Read Full Article

राजस्थान सरकार द्वारा जलयुक्त शिवार अभियान लागू करने की योजना

जलयुक्त शिवार अभियान: 2019 तक राज्य को सूखा-मुक्त बनाने के लिए महारष्ट्र का कार्यक्रम जुलाई 2015 के पहले सप्ताह में 2019 तक महारष्ट्र को सूखा-मुक्त राज्य बनाने के उद्देश्य से शुरू किया गया महारष्ट्र सरकार का जलयुक्त शिवार अभियान चर्चे

Read Full Article

फारसी तवारिखे : राजस्थान इतिहास में योगदान

राजस्थान के इतिहास को जानने, राजस्थान के शिलालेखों, ऐतिहासिक काव्य ग्रंथों, कथा साहित्य आदि के ऐतिहासिक विवरणों के क्रम बद्ध करने सत्यापित करने अथवा तथ्यों को लिखने के लिए ऐतिहासिक साहित्य के रुप में फारसी तवारिखें एक महत्वपूर्ण और विश्वसनीय

Read Full Article

राजस्थान में धार्मिक जागृति के कारण : राजस्थान की धार्मिक पृष्टभूमि

धर्म सदैव भारतीयों की आत्मा का स्वरुप रहा है। राजस्थान प्रदेश भी इस क्षेत्र में कभी पीछे नहीं रहा है। यहाँ के राजपूत शासक अपने धर्म की रक्षा के लिए अपने प्राणों की बाजी लगाने को तैयार रहें हैं। यहाँ

Read Full Article

राजस्थान में धार्मिक आन्दोलन के कारण

मध्यकालीन भारत की सर्वाधिक महत्वपूर्ण घटना भक्ति आन्दोलन का प्रबल होना था। कुछ विद्वानों का मानना है कि भक्ति आन्दोलन इस्लाम की देन था, किन्तु दकिंक्षण भारत में यह आन्दोलन छठी शताब्दी से नवीं शताब्दी के बीच प्रारम्भ हो गया

Read Full Article

प्रागैतिहासिक राजस्थान की विशेषताएँ

ऐतिहासिक स्रोत तथा भारतीय सभ्यता के विकास में राजस्थान का योगदान – कालीबंगा व आहड़ का सांस्कृतिक राजस्थान का योगदान – कालीबंगा वा आहड़ का सांस्कृतिक महत्व मानव सभ्यता का इतिहास वस्तुत: मानव के विकास का इतिहास है। इस दिशा

Read Full Article