Back to homepage

Rajasthan GK

रंगीलो राजस्थान

    🐪🐪🐪🐪 💭अभ्रक की मण्डी – भीलवाड़ा आदिवासीयो का शहर – बाँसवाड़ा अन्न का कटोरा – श्री गंगानगर 🔧औजारो का शहर – नागौर आइसलैण्ड अॉफ ग्लोरी – जयपुर 🌿उध्यानो,बगीचो का शहर – कोटा ऊन का घर – बीकानेर ख्वाजा की

Read Full Article
राजस्थान के जिले

राजस्थान के जिले

राजस्थान के ७ मंडलों में ३३ जिले हैं जो इस प्रकार हैं।- जिला मुख्यालय क्षेत्र (किमी²) जनसंख्या (2011) मंडल अजमेर जिला अजमेर 8481 25,84,913 अजमेर अलवर जिला अलवर 8380 36,71,999 जयपुर बांसवाड़ा जिला बांसवाड़ा 5037 17,98,194 उदयपुर बरन बारां 6955

Read Full Article
भूगोल एवं राजस्थान

भूगोल एवं राजस्थान

राजस्थान की आकृति लगभग पतङ्गाकार है। राज्य २३ ३ से ३० १२ अक्षांश और ६९ ३० से ७८ १७ देशान्तर के बीच स्थित है। इसके उत्तर में पाकिस्तान, पंजाब और हरियाणा, दक्षिण में मध्यप्रदेश और गुजरात, पूर्व में उत्तर प्रदेश

Read Full Article

राजस्थान का एकीकरण

राजस्थान का एकीकरण राजस्थान भारत का एक महत्वपूर्ण प्रांत है। यह 30 मार्च 1949 को भारत का एक ऐसा प्रांत बना, जिसमें तत्कालीन राजपूताना की ताकतवर रियासतें विलीन हुईं। भरतपुर के जाट शासक ने भी अपनी रियासत के विलय राजस्थान

Read Full Article

प्राचीन काल में राजस्थान

प्राचीन काल में राजस्थान मीणा राजा एम्बर (जयपुर) सहित राजस्थान के प्रमुख भागों के प्रारंभिक शासक थे। प्राचीन समय में राजस्थान मे मीना वंश के राजाओ का शासन था। संस्कृत में मत्स्य राज्य का ऋग्वेद में उल्लेख किया गया था।

Read Full Article

राजस्थान

राजस्थान भारत का एक प्रान्त है। यहाँ की राजधानी जयपुर है। राजस्थान भारत गणराज्य का क्षेत्रफल के आधार पर सबसे बड़ा राज्य है। इसके पश्चिम में पाकिस्तान, दक्षिण-पश्चिम में गुजरात, दक्षिण-पूर्व में मध्यप्रदेश, उत्तर में पंजाब (भारत), उत्तर-पूर्व में उत्तरप्रदेश

Read Full Article

राजस्थान ‘एनजेएसी बिल-2014’ को अपनाने वाला पहला राज्य

राजस्थान, राष्ट्रीय न्यायिक नियुक्ति आयोग (एनजेएसी) बिल 2014 को अपनाने वाला भारत का पहला राज्य बन गया. राजस्थान की विधानसभा ने इसे 17 सितंबर 2014 को सर्वसम्मति से पारित किया. राजस्थान विधानसभा ने राष्ट्रीय न्यायिक नियुक्ति आयोग (एनजेएसी) के बारे

Read Full Article
राजस्थान में कैसे कैसे मंदिर

राजस्थान में कैसे कैसे मंदिर

राजस्थान में कैसे कैसे मंदिर १. सोरसन (बारां) का ब्रह्माणी माता का मंदिर- यहाँ देवी की पीठ का श्रृंगार होता है. पीठ की ही पूजा होती है ! २. चाकसू(जयपुर) का शीतला माता का मंदिर- खंडित मूर्ती की पूजा समान्यतया

Read Full Article