Back to homepage

Rajasthan GK

राजस्थानी जैन साहित्य

ख्यात साहित्य की परम्परा के जैसे ही, राजस्थान के इतिहास के लिए जैन साहित्य का भी विशेष महत्व है। यह साहित्य जैन मुनियों, आचार्यों तथा श्रावकों द्वारा लिखा गया मूलत: जैन धर्म के उपदेशों की विवेचना, तीर्थंकरों की महत्ता, जैन

Read Full Article

राजस्थान में छुआछुत उन्मूलन हेतु किए गए प्रयत्न

राजस्थान राज्य के समाज में विभिन्न वर्गों और जातियों के लोग निवास करते थे। अन्य प्रान्ते की अपेक्षा राजस्थान में छुआछूत की प्रथा अधिक थी। राजस्थान को पूर्व में राजपूताना कहा जाता था। राजस्तान राज्यों की रियासतों के शासक निन्म

Read Full Article

राजस्थान में अंग्रेजी शिक्षा का विकास

ऐतिहासिक पृष्ठभूमि अठाहरवीं शताब्दी तक राजस्थान में प्राचीन भारतीय शिक्षा व्यवस्था ही प्रचलित थी। राज्य की ओर से शिक्षकों को अनुदार दिया जाता था। उन्नीसवीं शताब्दी के प्रारम्भ में शिक्षा स्थान पाठशालाएँ रिपोर्टकर्ता स्रोत १ जोधपुर ९४ निक्सन जोधपुर एजेंसी

Read Full Article

प्रागैतिहासिक राजस्थान की विशेषताएँ

ऐतिहासिक स्रोत तथा भारतीय सभ्यता के विकास में राजस्थान का योगदान – कालीबंगा व आहड़ का सांस्कृतिक राजस्थान का योगदान – कालीबंगा वा आहड़ का सांस्कृतिक महत्व मानव सभ्यता का इतिहास वस्तुत: मानव के विकास का इतिहास है। इस दिशा

Read Full Article

राजस्थान की जलवायु

जलवायु का समान्य अभिप्राय है – किसी क्षेत्र में मौसम की औसत दशाएँ। समान्यत: मौसम की औसत दशाओं का ज्ञान किसी क्षेत्र के तापमान, आर्दता, वर्षा, वायुदाव आदि का दीर्घकाल तक अध्ययन करने से होता है। किसी भी क्षेत्र विशेष

Read Full Article

राजस्थान मे प्रमुख इतिहासकार डा. गोपीनाथ शर्मा

शारीरिक पुष्टता कम थी, प्रवास का कार्य कठिन था। कोई दूसरा विकल्प न होने के कारण गोपीनाथ को यह कार्य न चाहते हुए भी करना पड़ा। निरीक्षण का क्षेत्र विस्तृत था- भीलवाड़ा, चित्तौड़ व उदयपुर। इस प्रवास में उन्हें ऐतिहासिक

Read Full Article

राजस्थान में धार्मिक आन्दोलन के कारण

मध्यकालीन भारत की सर्वाधिक महत्वपूर्ण घटना भक्ति आन्दोलन का प्रबल होना था। कुछ विद्वानों का मानना है कि भक्ति आन्दोलन इस्लाम की देन था, किन्तु दकिंक्षण भारत में यह आन्दोलन छठी शताब्दी से नवीं शताब्दी के बीच प्रारम्भ हो गया

Read Full Article

राजस्थान में महिलाओं की स्थिति

वर्ष 2001 की जनगणना के अनुसार राजस्थान की कुल जनसंख्या 5 करोड़ 65 लाख में से 48 प्रतिशत (लगभग 2 करोड़ 71 लाख) जनसंख्या महिलाओं की है। राजस्थान में महिलाओं की जनसंख्या देश की महिला जनसंख्या का 5.46 प्रतिशत है।

Read Full Article

मारवाड़ के लोकवाद्य

मानव जीवन संगीत से हमेशा से जुड़ा रहा है। संगीत मानव के विकास के साथ पग-पग पर उपस्थित रहा है। विषण्ण ह्मदय को आह्मलादित एवं निराश मन को प्रतिपल प्रफुल्लित रखने वाले संगीत का अविभाज्य अंग है- विविध-वाद्य यंत्र। इन

Read Full Article

राजस्थान के प्रमुख व्यक्तिव व उनके उपनाम

राजस्थान की राधा : मीराबाई मरू कोकिला : गवरी देवी भारत की मोनालिसा : बनी ठनी राजस्थान की जलपरी : रीमा दत्ता राजस्थान का कबीर : दादूदयाल राजपूताने का अबुल फजल : मुहणौत नैणसी डिंगल का हैरॉस : पृथ्वीराज राठौड़ हल्दीघाटी का शेर : महाराणा प्रताप मेवाड़ का

Read Full Article

राजस्थान के इतिहास की प्रमुख घटनाएं – प्रारंभ से चौदहवीं शताब्दी तक

  वर्ष महत्तवपूर्ण घटना 5000 ई.पू. कालीबंगा सभ्यता 3500 ई.पू. आहड़ सभ्यता 1000-600 ई.पू. आर्य सभ्यता 300-600 ई.पू. जनपद युग 350-600 ई.पू. गुप्त वंश का हस्तक्षेप 551 ई. वासुदेव चौहान द्वारा सांभर (सपादलक्ष) में चौहान राज्य की स्थापना 728 ई.

Read Full Article

राजस्थान की प्रमुख झीलें

राजस्थान में मीठे पानी की झीलों में जयसमन्द, राजसमन्द, पिछोला, आनासागर, फाईसागर, पुष्कर, सिलसेढ, नक्की, बालसमन्द, कोलायत, फतहसागर व उदयसागर आदि प्रमुख है। १) जयसमन्द – यह मीठे पानी की सबसे बड़ी झील है। यह उदयपुर जिले में स्थित है

Read Full Article

राजस्थान भौगोलिक उपनाम

अभ्रक की मंडी – भीलवाड़ा ➲ आदिवासियों का शहर – बांसवाड़ा ➲ अन्न का कटोरा – श्री गंगानगर ➲ औजारों का शहर – नागौर ➲ आइसलैंड आॅफ ग्लोरी/रंग श्री द्वीप – जयपुर ➲ उद्यानों/बगीचों का शहर – केाटा ➲ ऊन का

Read Full Article

राजस्थान पशु मेले

राजस्थान में भरे जाने वाले राज्य स्तरीय पशु मेलों की संख्या है – 10 दस ➲ सर्वाधिक राज्य स्तरीय पशु मेले किस जिले में आयोजित होते है – नागौर (3) ➲ वह स्थान जहां सर्वाधिक राज्य स्तरीय पशु मेले आयोजित

Read Full Article

राजस्थान: पशुधन व डेयरी विकास योजनाएं

राजस्थान पशुधन निःशुल्क दवा योजना – 15 अगस्त 2012 से प्रारंभ – उद्देश्य: राज्य के 5.67 करोड़ पशुधन (1.21 करोड़ गाएं, 1.11 करोड़ भैंसें, 2.15 करोड़ बकरियां, 1.11 करोड़ भेड़ें, 4.22 लाख ऊंट आदि) हेतु 110 आवश्यक औषधियों (पहले 87) व

Read Full Article

राजस्थान: जलवायु, तापमान, वर्षा

तापक्रम, वर्षा व आर्द्रता के आधार पर राजस्थान को पांच मुख्य प्रदेशों में बांटा गया है – 1. शुष्क जलवायु प्रदेश 2. अर्द्धशुष्क जलवायु प्रदेश 3. उपआर्द्र जलवायु प्रदेश 4. आर्द्र जलवायु प्रदेश 5. अति आर्द्र जलवायु प्रदेश ➲ पूर्वी

Read Full Article

राजस्थान: वन्य जीव अभयारण्य एवं राष्ट्रीय उद्यान

राजस्थान बजट घोषणा 2013 के अन्तर्गत पक्षी अभ्यारण्य  स्थापित किया जायेगा – “बड़ोपल पक्षी अभ्यारण्य ” – हनुमानगढ़ जिले की पीलीबंगा तहसील के गांव बड़ोपल में। बड़ोपल गांव विदेशी पक्षियों की शरण स्थली के रूप में प्रसिद्ध है। ➲ किस जिले

Read Full Article
Vasundhara Raje Agreed to Be Lalit Modi’s Secret Witness Show Documents Released by Him

Vasundhara Raje Agreed to Be Lalit Modi’s Secret Witness Show Documents Released by Him

In a new twist to the row over Foreign Minister Sushma Swaraj helping Lalit Modi obtain British travel papers, documents released by the controversial former Indian Premier League boss show that Rajasthan Chief Minister Vasundhara Raje agreed to be a

Read Full Article