पांचवें युवा डेल्फिक खेलों की मेजबानी गोवा को सौंपी गई

DoThe Best
By DoThe Best July 9, 2015 11:17

गोवा को 5वें युवा डेल्फिक खेल की मेजबानी सौंपी गई. मेजबानी की घोषणा जून 2015 में की गई. इसके आयोजन करने के साथ ही गोवा इस अंतरराष्ट्रीय खेल की मेजबानी करने वाला पहला भारतीय राज्य बन जाएगा.

वर्ष 2016 के इस खेल का आदर्श वाक्य (Moto) ‘कला और संस्कृति’ है.

भारत में इसका पहली बार आयोजन 1-14 फरवरी 2016 के मध्य किया जाना है.

यह खेल प्रति चार वर्ष बाद आयोजित किया जाता है.

इस खेल में 15 वर्ष से 25 वर्ष आयु वर्ग के प्रतिभागियों को कला और संस्कृति के प्रदर्शन के लिए बुलाया गया है.

पांचवे युवा डेल्फिक खेलों में प्रतिभागी कला के छह वर्गों और 70 उपवर्गों में हिस्सा लेंगे. इसके 6 वर्ग निम्नलिखित हैं.
•संगीत कला और ध्वनि (गायन, वाद्य संगीत, इलेक्ट्रॉनिक)
• कला प्रदर्शन (नृत्य, थियेटर, सर्कस, कठपुतली)
• भाषा कला (साहित्य, कविता, संयम)
• विजुअल आर्ट्स (पेंटिंग, ग्राफिक्स, मूर्तिकला, स्थापना, फैशन, फोटोग्राफी)
• सामाजिक आर्ट्स (संचार, इंटरनेट, मीडिया, शिक्षण, प्रबोधक)
• पारिस्थितिक कला और वास्तुकला (शहरी नियोजन, बागवानी, संरक्षण और प्रकृति के संरक्षण, स्मारकों)

पांचवे युवा डेल्फिक खेलों में 125 देश के 7000 से अधिक प्रतिभागी शामिल होंगें.

युवा डेल्फिक खेल से संबंधित तथ्य
इसे ओलंपिक खेलों की जुड़वा बहन कहा जाता है. देवताओं की स्तुति और शांति का सम्मान करने के लिए 1000 वर्ष से अधिक पहले डेल्फी, ग्रीस में यह अस्तित्व में आया था. परन्तु युद्ध और संघर्ष की वजह से यह खेल 394 ईस्वी में प्रतिबंधित कर दिया गया. इस खेल का इतिहास प्राचीन ग्रीस में 2500 वर्ष पहले का है.

अंतरराष्ट्रीय डेल्फिक समिति (International Delphic Council, IDC) का गठन वर्ष 1994 में किया गया. आधुनिक समय में इस खेल को वर्ष 1994 में शुरू किया गया और पिछले 20 सालों में यह खेल आठ देशों में दो प्रारूपों में आयोजित किये गये.

DoThe Best
By DoThe Best July 9, 2015 11:17
Write a comment

No Comments

No Comments Yet!

Let me tell You a sad story ! There are no comments yet, but You can be first one to comment this article.

Write a comment
View comments

Write a comment

Your e-mail address will not be published.
Required fields are marked*

1 × one =