Back to homepage

Tag "indian history"

खेड़ा सत्याग्रह – एक किसान आन्दोलन 1918

खेड़ा सत्याग्रह – एक किसान आन्दोलन 1918

खेड़ा सत्याग्रह – एक किसान आन्दोलन 1918 आज हम खेड़ा सत्याग्रह (Kheda Movement) के विषय में पढ़ने वाले हैं. खेड़ा एक जगह का नाम है जो गुजरात में है. चंपारण के किसान आन्दोलन के बाद खेड़ा (गुजरात) में भी 1918

Read Full Article
लाला लाजपत राय का जीवन और भारतीय इतिहास में उनका स्थान

लाला लाजपत राय का जीवन और भारतीय इतिहास में उनका स्थान

लाला लाजपत राय का जीवन और भारतीय इतिहास में उनका स्थान कांग्रेस के उग्रवादी नेताओं में लाला लाजपत राय का बहुत ही महत्त्वपूर्ण स्थान है. तिलक की ही भाँति पंजाब में लाला लाजपत राय ने नयी सामाजिक और राजनीतिक चेतना

Read Full Article
बौद्ध धर्म के विषय में संक्षिप्त जानकारी

बौद्ध धर्म के विषय में संक्षिप्त जानकारी

बौद्ध धर्म के विषय में संक्षिप्त जानकारी गौतम बुद्ध का जन्म बौद्ध धर्म के संस्थापक गौतम बुद्ध थे. गौतम बुद्ध का जन्म 567 ई.पू.  कपिलवस्तु के लुम्बनी नामक स्थान पर हुआ था. इनके बचपन का नाम सिद्धार्थ था. गौतम बुद्ध

Read Full Article
प्रथम विश्वयुद्ध

प्रथम विश्वयुद्ध

प्रथम विश्वयुद्ध प्रथम विश्वयुद्ध की भूमिका (Background of First World War) 1914-18 ई. का प्रथम विश्वयुद्ध (First World War) साम्राज्यवादी राष्ट्रों की पारस्परिक प्रतिस्पर्द्धा का परिणाम था. प्रथम विश्वयुद्ध का सबसे महत्त्वपूर्ण कारण गुप्त संधि प्रणाली थी. यूरोप में गुप्त

Read Full Article
तीनों पानीपत युद्धों का संक्षिप्त विवरण

तीनों पानीपत युद्धों का संक्षिप्त विवरण

तीनों पानीपत युद्धों का संक्षिप्त विवरण तीनों पानीपत की प्रथम लड़ाई – First Panipat War पानीपत में तीन भाग्यनिर्णायक लडाईयाँ यहाँ हुई, जिन्होंने भारतीय इतिहास की धारा ही मोड़ दी. पानीपत की पहली लड़ाई -Panipat War 1 21 अप्रैल, 1526

Read Full Article
प्राचीन भारतीय इतिहास का घटनाक्रम

प्राचीन भारतीय इतिहास का घटनाक्रम

प्राचीन भारतीय इतिहास का घटनाक्रम प्रागैतिहासिक कालः 400000 ई.पू.-1000 ई.पू. : यह वह समय था जब सिर्फ भोजन इकट्ठा करने वाले मानव ने आग और पहिये की खोज की। सिंधु घाटी सभ्यताः 2500 ई.पू.-1500 ई.पू. : इसका यह नाम सिंधु नदी से

Read Full Article
वैदिक साहित्य

वैदिक साहित्य

वैदिक साहित्य वैदिक साहित्य भारतीय संस्कृति के प्राचीनतम स्वरूप पर प्रकाश डालने वाला तथा विश्व का प्राचीनतम् साहित्य है। वैदिक साहित्य को ‘श्रुति’ भी कहा जाता है, क्योंकि सृष्टिकर्ता ब्रह्माजी ने विराटपुरुष भगवान् की वेदध्वनि को सुनकर ही प्राप्त किया है। अन्य ऋषियों ने भी इस

Read Full Article
मगध साम्राज्य

मगध साम्राज्य

मगध साम्राज्य हर्यक वंश (544 ई.पू. से 412 ई.पू.) छठी सदी ई.पू. मेँ सोलह महाजनपद मेँ से एक मगध महाजनपद का उत्कर्ष एक साम्राज्य के रुप मेँ हुआ। इसे भारत का प्रथम साम्राज्य होने का गौरव प्राप्त है। हर्यक वंश

Read Full Article
गुप्त साम्राज्य : एक संशिप्त विवरण

गुप्त साम्राज्य : एक संशिप्त विवरण

गुप्त साम्राज्य : एक संशिप्त विवरण गुप्त राजवंश या गुप्त वंश प्राचीन भारत के प्रमुख राजवंशों में से एक था। इसे भारत का एक स्वर्ण युग माना जाता है। मौर्य वंश के पतन के बाद दीर्घकाल तक भारत में राजनीतिक एकता स्थापित नहीं रही।

Read Full Article
दिल्ली सल्तनत के अंतर्गत इल्बरी वंश का संशिप्त विवरण

दिल्ली सल्तनत के अंतर्गत इल्बरी वंश का संशिप्त विवरण

दिल्ली सल्तनत के अंतर्गत इल्बरी वंश का संशिप्त विवरण दिल्ली सल्तनत की स्थापना 1206 ई. में की गई। इस्लाम की स्थापना के परिणामस्वरूप अरब और मध्य एशिया में हुए धार्मिक और राजनीतिक परिवर्तनों ने जिस प्रसारवादी गतिविधियों को प्रोत्साहित किया, दिल्ली सल्तनत की स्थापना उसी का परिणाम

Read Full Article
संगम युग के प्रमुख राजवंशो का संशिप्त विवरण

संगम युग के प्रमुख राजवंशो का संशिप्त विवरण

संगम युग के प्रमुख राजवंशो का संशिप्त विवरण सुदूर दक्षिण भारत में कृष्णा एवं तुंगभद्रा नदियों के बीच के क्षेत्र को ‘तमिल प्रदेश‘ कहा जाता था। इस प्रदेश में अनेक छोटे-छोटे राज्यों का अस्तित्व था, जिनमें चेर, चोल और पांड्य प्रमुख थे। दक्षिण भारत के इस प्रदेश में तमिल कवियों द्वारा सभाओं तथा

Read Full Article
हड़प्पा सभ्यता : कला और वास्तुकला एक नजर मे

हड़प्पा सभ्यता : कला और वास्तुकला एक नजर मे

हड़प्पा पूर्वोत्तर पाकिस्तान के पंजाब प्रांत का एक पुरातात्विक स्थल है। यह साहिवाल शहर से २० किलोमीटर पश्चिम मे स्थित है। सिन्धु घाटी सभ्यता के अनेकों अवशेष यहाँ से प्राप्त हुए है। सिंधु घाटी सभ्यता को इसी शहर के नाम के कारण हड़प्पा सभ्यता भी

Read Full Article
REVOLT OF 1857 INDIA:CAUSES, EFFECTS, HISTORY

REVOLT OF 1857 INDIA:CAUSES, EFFECTS, HISTORY

REVOLT OF 1857 INDIA:CAUSES, EFFECTS, HISTORY One of the important events of Indian history is the Revolt of 1857. It was the first rebellion against the East India Company which took the massive form. The main persons behind this rebellion

Read Full Article
आधुनिक भारत  का इतिहास

आधुनिक भारत का इतिहास

आधुनिक भारत  का इतिहास आधुनिक भारत का इतिहास स्पष्टतः दो भागों में बँटा है। 1857 का सैनिक विद्रोह अपने पीछे जिस पृष्ठभूमि को रखे हुए है वही पुस्तक के पहले भाग की विषय-वस्तु है। इसका आरम्भ डच, पुर्तगाली, अंग्रेजी, फ्रांसीसी-इन

Read Full Article
महमूद गजनी द्वारा भारत पर किये गए हमलों का विस्तृत विवरण

महमूद गजनी द्वारा भारत पर किये गए हमलों का विस्तृत विवरण

महमूद गजनी द्वारा भारत पर किये गए हमलों का विस्तृत विवरण महमूद ग़ज़नवी यमीनी वंश का तुर्क सरदार ग़ज़नी के शासक सुबुक्तगीन का पुत्र था। उसका जन्म सं. 1028 वि. (ई. 971) में हुआ, 27 वर्ष की आयु में सं. 1055 (ई.

Read Full Article