अबुल फजल: अकबरनामा के लेखक

DoThe Best
By DoThe Best September 15, 2015 13:59

अबुल फजल अपने छोटे भाई फैजी की तरह सम्राट अकबर के दरबार में नवरत्नों की सूची में से एक था. अबुल फजल की प्रमुख साहित्यिक कृतियां निम्नलिखित हैं:

1) अकबरनामा: यह तीन खंडों में लिखा गया अकबर के समय का आधिकारिक इतिहास है. इसमें अकबर के पूर्वजो तैमुर, बाबर हुमायूँ और अकबर का वर्णन किया गया. इसका तीसरा खंड आईने अकबरी के नाम से जाना जाता है. इसमें अकबर के समय के प्रशासनिक घटनाओं का वर्णन मिलता है.

2) रुकात: यह अकबर के अन्य राजकुमारों का पत्र संग्रह है.

3) इंशा-ए-अबुल फज़ल: यह अकबर के समय के समकालीन शासकों और अमीरों को अकबर द्वारा लिखे गए पत्रों का संग्रह है.

अन्य साहित्यिक कृतियां

शेख फैज इलाहदाद सरहिंदी द्वारा लिखित एक और अकबरनामा था. यह निजामुद्दीन अहमद द्वारा लिखित तबकात-ए-अकबरी पर आधारित है. निजामुद्दीन अहमद अकबर का मीर बख्शी था.

इबादतखाना क्या है?

इबादतखाना विभिन्न धार्मिक संप्रदायों के संतो के द्वारा सैद्धांतिक और दार्शनिक पूछताछ और बहस के लिए आयोजित किया जाने वाला स्थान था. इसकी स्थापना 1574 ईस्वी में की गयी थी. अकबर इन बहसों और चर्चाओं में एक गहरी रुचि लेता था. इसे अब दीवान-ए-खास के नाम से जाना जाता है. प्रारंभ में यह केवल सुन्नी मुसलमानों के लिए ही खुला था लेकिन बाद में यह विभिन्न धर्मं के लोगो जैसे इसाई,जैन, आदि के लिए भी खोल दिया गया.

DoThe Best
By DoThe Best September 15, 2015 13:59
Write a comment

No Comments

No Comments Yet!

Let me tell You a sad story ! There are no comments yet, but You can be first one to comment this article.

Write a comment
View comments

Write a comment

<

3 + 19 =