अकबर के नवरत्न

DoThe Best
By DoThe Best September 16, 2015 12:50

अकबर के दरबार में निवास कर रहे नवरत्नों का उल्लेख किये बिना अकबर के भव्यता की कहानी अधूरी रहेगी अकबर के नवरत्नों में प्रमुख है, राजा बीरबल, मियां तानसेन, अबुल फजल, फैजी, राजा मान सिंह, राजा टोडर मल, मुल्ला दो प्याजा, फकीर अज़ुद्दीन, अब्दुल रहीम खान-ए-खाना. इन नवरत्नों के बारे में प्रत्येक का जिक्र निम्नवत है.

राजा बीरबल

इन्होनें अकबर के दरबार में प्रमुख विदूषक की भूमिका निभाई थी. इनका असली नाम महेशदास था और राजा बीरबल नाम अकबर द्वारा दिया गया था. उन्होंने अकबर के लिए सैन्य और प्रशासनिक सेवाएं भी दी थीं. उत्तर पश्चिमी भारत में अफगानी कबीलों के बीच व्याप्त अशांति को समाप्त करने के लिए किये गए युद्ध में  उनकी मृत्यु हो गई थी.

मियां तानसेन

इनका असली नाम तन्ना मिश्रा था. वह शुरू में स्वामी हरिदास के शिष्य था और बाद में इन्होनें हजरत मुहम्मद गौस से संगीत सीखा था. यह अकबर के दरबार में एक प्रमुख संगीतकार थे.

अबुल फजल

यह अकबरनामा और आईने अकबरी के लेखक थे.

फैजी

यह एक प्रसिद्ध कवि थे और अबुल फजल के भाई था.

राजा मान सिंह

ये अकबर की सेना में एक सेनापति थे और अकबर के ससुर भारमल के पौत्र थे.

राजा टोडर मल

राजा टोडरमल अकबर के वित्त मंत्री थे. ये अकबर के सम्पूर्ण राज्य की राजस्व प्रणाली में सुधर के लिए जिम्मेदार थे.

मुल्ला दो प्याजा 

इसने अकबर के लिए एक सलाहकार के रूप में काम किया.

फकीर अज़ुद्दीन 

यह एक सूफी फकीर और अकबर के एक प्रमुख सलाहकार थे.

अब्दुल रहीम खान-ए-खाना

वह अकबर के शिक्षक और मुगल सेना के एक विश्वसनीय जनरल बैरम खान का पुत्र था. वह अपने ग़ज़ल और दोहों के लिए मशहूर था.

DoThe Best
By DoThe Best September 16, 2015 12:50
Write a comment

No Comments

No Comments Yet!

Let me tell You a sad story ! There are no comments yet, but You can be first one to comment this article.

Write a comment
View comments

Write a comment

<

1 × 2 =