मोदी को नहीं करना था बिहार में मोदी पर हमलाः शत्रुघ्न सिन्हा

DoThe Best
By DoThe Best November 16, 2015 12:26

मोदी को नहीं करना था बिहार में मोदी पर हमलाः शत्रुघ्न सिन्हा

मोदी को नहीं करना था बिहार में मोदी पर हमलाः शत्रुघ्न सिन्हा

महंगाई के कारण पिस रहा आम आदमी

सिन्हा ने कहा कि मैंने क्या गलत किया है मैंने केवल चुनाव प्रचार के दौरान पार्टी द्वारा की गई गलतियां बताईं। उदाहरण के तौर पर मैंने कहा कि सरकार की पहली प्राथमिकता दाल और जरूरी सामानों की बढ़ती कीमतों पर रोक लगाना होनी चाहिए क्योंकि आम आदमी मूल्य वद्धि के कारण पिस रहा है। उन्होंने एक सार्वजनिक समारोह में कहा कि मैंने बिहार चुनाव प्रचार के दौरान शुरू हुए \’बिहारी बनाम बाहरी\’ के बहस पर रोक लगाने की मांग की, क्योंकि मेरा मानना है कि किसी भी देशवासी को उस राज्य में बाहरी करार नहीं दिया जा सकता।

बिहार चुनाव के लिए पार्टी की रणनीति और करारी शिकस्त के बाद जिम्मेदारी तय ना करने भाजपा नेतृत्व की खुलेआम आलोचना करने वाले बीजेपी सांसद शत्रुघ्न सिन्हा ने अपना बयान वापस लेने से मना कर दिया। उन्होंने कहा कि मैंने केवल सच्चाई बयां की है। इसके साथ ही उन्होंने पीएम मोदी पर उनके नेतृत्व में बिहार चुनाव में जीती गई सीटों को लेकर भी निशाना साधा। पटना साहिब के सांसद सिन्हा ने दोहराया कि वह बिहार में हार के लिए जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कार्रवाई की मांग पर दृढ़ है।

हां, मैं बागी हूं

भाजपा सांसद ने कहा कि अगर सच कहना बगावत करना है, तो हां मैं बागी होने का दोषी हूं। मैंने हमेशा पार्टी और राष्ट्र हित में बातें की हैं। ऐसे में यदि कुछ लोगों को बगावत का आरोपी समझा जाता है तो फिर मैं बागी हूं। इससे पहले उन्होंने रविवार रात को कहा कि बिहार में जीती गई सीटों के लिए मोदी को श्रेय जाता है और कहा कि राजद प्रमुख लालू प्रसाद पर प्रधानमंत्री के हमले का उल्टा असर हुआ।

शत्रुघ्न सिन्हा ने दावा किया कि बिहार के मतदाताओं को समझ में आ गया कि मोदी के आर्थिक पैकेज की घोषणा एक चुनावी हथकंडा है। उन्होंने मोदी पर निशाना साधते हुए कहा, बिहार में बीजेपी ने जितनी सीटें जीतीं उसका श्रेय पीएम मोदी को जाता है और इसे लेकर कोई संदेह नहीं होना चाहिए। उल्लखनीय है कि बिहार विधानसभा चुनाव में जदयू, राजद और कांग्रेस के महागठबंधन ने 178 सीटें हासिल कीं जबकि बीजेपी को महज 53 सीटों से संतोष करना पड़ा।

DoThe Best
By DoThe Best November 16, 2015 12:26
Write a comment

No Comments

No Comments Yet!

Let me tell You a sad story ! There are no comments yet, but You can be first one to comment this article.

Write a comment
View comments

Write a comment

<

ten − 4 =