जयपुर में आज से चलेगी मेट्रो, 6 महिला ड्राइवर भी दौड़ाएंगी ट्रेनें

DoThe Best
By DoThe Best June 3, 2015 10:27

जयपुर में आज से चलेगी मेट्रो, 6 महिला ड्राइवर भी दौड़ाएंगी ट्रेनें

राजस्थान को बुधवार को मेट्रो की सौगात मिलेगी। जयपुर में सुबह 11 बजे मानसरोवर मेट्रो स्टेशन पर मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे हरी झंडी दिखाकर मेट्रो को रवाना करेंगी। वे भी इसमें सफर करेंगी। दोपहर दो बजे से इसे आम जनता के लिए खोल दिया जाएगा। कई डेडलाइन मिस होने के बावजूद इस मेट्रो सर्विस को देश में सबसे तेज माना जा रहा है। इसे रिकॉर्ड साढ़े चार साल में पूरा किया गया है। जयपुर मेट्रो के साथ एक स्पेशल चीज भी जुड़ी हुई है। छह महिला ड्राइवर भी इन ट्रेनों को चलाएंगी। ये महिलाएं छोटे कस्बों से हैं, जिनके घरवालों ने कभी उन्हें टू व्हीलर तक चलाने नहीं दिया। अब ये महिलाएं उस पब्लिक ट्रांसपोर्ट की कमान संभालने जा रही हैं, जो जयपुर के परिवहन के तौर-तरीकों को बदल देगा।

जयपुर मेट्रो की खासियत
>9.63 कि.मी. की दूरी 23 मिनट में होगी पूरी।
>9 स्टेशन (मानसरोवर, आतिश मार्केट, विवेक विहार, श्यामनगर, सोढ़ाला, सिविल लाइंस, जयपुर जंक्शन, सिंधी कैंप, चांदपोल)।
>30 सेकंड से 2 मिनट का होगा स्टॉपेज।
>5, 10 और 15 रुपए के टिकट।
>10 मिनट के अंतराल पर मिलेगी।
>10 ट्रेनें दिन भर में लगाएंगी 131 फेरे।

4 कोच होंगे हर ट्रेन में।
>6:45 से रात 9 बजे तक होगी सर्विस।
>1100 यात्री सफर कर सकेंगे एक ट्रेन में।
>1.20 लाख यात्री सफर कर सकेंगे एक दिन में।
क्या होगा फायदा
>अभी मानसरोवर से चांदपोल तक के नौ किमी के रास्ते में सोडाला तिराहे, सिविल लाइंस चौराहा, रेलवे स्टेशन, सिंधी कैप बस स्टैंड के सामने व चांदपोल में दिनभर जाम की स्थिति रहती है। इन स्थानों पर ट्रैफिक एक-चौथाई कम हो जाएगा। 2 हजार लोगों को मेट्रो स्टेशनों से नजदीकी कॉलोनियों के लिए नया फीडर मार्ग खुलने से फायदा होगा।
>मानसरोवर व आसपास के इलाकों से 20 प्रतिशत पहले ही पब्लिक ट्रांसपोर्ट का उपयोग कर रहे हैं। बाकी यात्री अपने वाहनों से आते-जाते हैं। ये यात्री 30 से 35 हजार वाहनों का उपयोग करते हैं। इनकी संख्या घटेगी।
>इसके अलावा पर्यटन भी बढ़ेगा। हर साल यहां 15 लाख पर्यटक आते हैं। जानकारों को उम्मीद है कि मेट्रो की वजह से पर्यटकों की संख्या 5 से 10 प्रतिशत बढ़ेगी।
DoThe Best
By DoThe Best June 3, 2015 10:27
Write a comment

No Comments

No Comments Yet!

Let me tell You a sad story ! There are no comments yet, but You can be first one to comment this article.

Write a comment
View comments

Write a comment

<

six − 1 =