PM बनने के बाद पहली बार दुनिया की सबसे बड़ी मस्जिद में पहुंचे मोदी

DoThe Best
By DoThe Best August 18, 2015 12:31

PM बनने के बाद पहली बार दुनिया की सबसे बड़ी मस्जिद में पहुंचे मोदी

भारतीय प्रधानमंत्री की यूएई की यात्रा 34 साल बाद हो रही है। इससे पहले तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी वहाँ गई थीं। यूएई सरकार भी प्रधानमंत्री की इस यात्रा को बहुत अहमियत दे रही है। मोदी आबूधाबी के युवराज एवं यूएई की सशस्त्र सेनाओं के उप सर्वोच्च कमांडर जनरल शेख मोहम्मद बिन जायेद अल नाह्यान के निमंत्रण पर वहां गए हैं। मोदी आबूधाबी में सरकारी कार्यक्रमों के बाद सोमवार दोपहर बाद दुबई जाएंगे, उनके दो सार्वजनिक कार्यक्रम होंगे, जिनमें दुबई क्रिकेट स्टेडियम में प्रवासी भारतीय समुदाय के 50 हजार लोगों की सभा शामिल है।

भारतीय प्रधानमंत्री की यूएई की यात्रा 34 साल बाद हो रही है। इससे पहले तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी वहाँ गई थीं। यूएई सरकार भी प्रधानमंत्री की इस यात्रा को बहुत अहमियत दे रही है। मोदी आबूधाबी के युवराज एवं यूएई की सशस्त्र सेनाओं के उप सर्वोच्च कमांडर जनरल शेख मोहम्मद बिन जायेद अल नाह्यान के निमंत्रण पर वहां गए हैं। मोदी आबूधाबी में सरकारी कार्यक्रमों के बाद सोमवार दोपहर बाद दुबई जाएंगे, उनके दो सार्वजनिक कार्यक्रम होंगे, जिनमें दुबई क्रिकेट स्टेडियम में प्रवासी भारतीय समुदाय के 50 हजार लोगों की सभा शामिल है।

वहीं यूएई रवान होने से पहले प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि भारत और यूएई दोनों ही देश एक दूसरे के लिए शीर्ष प्राथमिकता हैं। मैं तो यूएई को ऎसे ही देखता हूं। खाड़ी देश, भारत के आर्थिक, ऊर्जा और सुरक्षा क्षेत्र के लिए काफी महत्व रखता है। हमने संकल्प लिया है कि एक दूसरे से लगातार उच्च-स्तरीय बातचीत बनाए रखेंगे और सामरिक साझेदारी को मजबूत बनाएंगे। – See more at:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार को दो दिवसीय आधिकारिक यात्रा पर संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) पहुंच गए। यूएई पहुंचने के बाद मोदी दुनिया की सबसे बड़ी मजिस्द को देखने पहुंचे। पीएम मोदी के मस्जिद पहुंचते ही वहां हजारों लोग उनका स्‍वागत करते नजर आए। मस्जिद के यहां मौजूद लोग पीएम की झलक पाने और तस्‍वीर लेने के लिए उत्‍साहित नजर आए। खुशी कि मारे लोग मस्जिद में ही मोदी-मोदी के नारे लगाने लगे।
अबू धाबी निवेश प्राधिकरण (एनआईए) के महानिदेशक हामिद बिन जायेद अल नह्वयान ने मोदी के सम्मान में डिनर का आयोजन किया है। एनआईए 800 अरब डॉलर का स्वतंत्र कोष है और भारत ढांचागत क्षेत्रों में इससे निवेश का आकांक्षी है।�तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के 1981 में हुए यूएई दौरे के बाद इस खाड़ी देश की यात्रा करने वाले मोदी पहले भारतीय प्रधानमंत्री हैं। अपने इस दौरे के दौरान मोदी ऊर्जा, व्यापार, आपसी संबंध और भारत में निवेश को बढ़ावा देने के प्रयास करेंगे।आतंकवाद का मुद्दा भी मोदी के कार्य सूची में शीर्ष पर होगा। प्रधाानमंत्री रविवार को अबु धाबी पहुंचेंगे और अगले दिन यानी सोमवार को दुबई जाएंगे।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरूप के अनुसार मोदी भारतीय समयानुसार शाम चार बजे आबूधाबी पहुंचेंगे। कुछ देर विश्राम के बाद वह अत्याधुनिक तकनीक से निर्मित मसदर सिटी जाएंगे। प्रधानमंत्री को इस स्मार्ट सिटी परियोजना के बारे में प्रेजेंटेशन दिखाये जाएंगे और उनका वहां रियल एस्टेट कारोबारियों से संवाद होगा। शाम को वह आईसीएडी रेजिडेंशियल सिटी जाएंगे और वहां रहने वाले प्रवासी भारतीय कामगारों के स्वागत समारोह में शिरकत करेंगे। प्रवक्ता के अनुसार अगले दिन उनकी जनरल शेख मोहम्मद बिन जायेद अल नाह्यान से मुलाकात होगी। यूएई के उपराष्ट्रपति एवं प्रधानमंत्री शेख मोहम्मद बिन राशिद अल मख्तूम से भी मिलेंगे जो दुबई के शासक भी हैं। उनके बीच द्विपक्षीय बैठक होगी।
DoThe Best
By DoThe Best August 18, 2015 12:31
Write a comment

No Comments

No Comments Yet!

Let me tell You a sad story ! There are no comments yet, but You can be first one to comment this article.

Write a comment
View comments

Write a comment

<

3 × four =