कैमरन बोले-अच्छे दिन आएंगे,PM मोदी ने कहा-मेहरबानी नहीं चाहिए

DoThe Best
By DoThe Best November 14, 2015 12:20

कैमरन बोले-अच्छे दिन आएंगे,PM मोदी ने कहा-मेहरबानी नहीं चाहिए

कैमरन बोले-अच्छे दिन आएंगे,PM मोदी ने कहा-मेहरबानी नहीं चाहिए

भारत में भले ही आम आदमी अच्छे दिनों की उम्मीद खोता जा रहा है, लेकिन ब्रिटेन के प्रधानमंत्री डेविड कैमरन को पूरा यकीन है कि अच्छे दिन जरूर आएंगे। ब्रिटेन दौरे पर गए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की वेंबले स्टेडियम में आयोजित सभा में कैमरन ने मोदी सरकार के कसीदे पढ़े। उन्होंने यहां तक कह दिया कि वह दिन दूर नहीं जब ब्रिटेन में कोई भारतीय मूल का प्रधानमंत्री होगा। स्टेडियम में मोदी का भव्य स्वागत किया गया। \’नमस्ते\’ और \’कैम छो\’ कहकर भारतीयों का अभिवादन करने वाले कैमरन पूरी तरह से भारतीय रंग में रंगे नजर आए। कैमरन ने कहाकि किसी को विश्वास नहीं था कि चाय बेचने वाला देश सही तरीके से चला पाएगा लेकिन मोदी ने सबको गलत साबित कर दिया।
मेहरबानी नहीं, बराबरी चाहते हैं : मोदी
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वेंबले में करीब 60 हजार भारतीय समुदाय को संबोधित करते हुए कहा कि दुनिया आज भारत के प्रति आशान्वित है। विश्व भारत को एक शक्ति के रूप में देख रहा है। मेरी भी कोशिश है कि दुनिया में भारत का स्थान बराबरी का होना चाहिए। हम दुनिया से मेहरबानी नहीं चाहते। आज दुनिया के सभी देश भारत के साथ बराबरी से बात करते हैं।
अलवर के इमरान का जिक्र�
पीएम मोदी ने अलवर के इमरान का जिक्र करते हुए कहा कि इमरान खान ने विद्यार्थियों को शिक्षा में मदद के लिए 50 ऐप बनाए और उन्हें मुफ्त में लांच कर दिया। मेरा भारत उसी अलवर के इमरान खान में बसता है। भारत की विविधताओं का जिक्र करते हुए उन्होंने कहाकि, हमारे यहां सौ भाषाएं, 1500 बोलियां और हजारों खानपान की पद्धतियां व सैंकड़ों वेशभूषाएं हैं। हमारी विविधता हमारी शान भी है। उन्होंने कहाकि टीवी और अखबारों की सुर्खियों के अलावा भी भारत है जो बहुत बड़ा और गहरा है।
ये भी बोले पीएम
पीएम मोदी ने कहा कि जिसने सूफी परंपरा को समझा होगा वह कभी बंदूक उठाने का काम नहीं करता। भारतीय जहां भी गए सबके साथ जीने की चाह लेकर गए।
विदेशों में रहने वाले भारतीयों ने अपनी परंपराओं से दुनिया को अवगत कराया है।�
पिछले 18 माह के अनुभव से मैं कह सकता हूं कि भारत को गरीब रहने का कोई कारण नहीं है। भारत जवानी और सकारात्मकता से लबालब भरा हुआ देश है।
DoThe Best
By DoThe Best November 14, 2015 12:20
Write a comment

No Comments

No Comments Yet!

Let me tell You a sad story ! There are no comments yet, but You can be first one to comment this article.

Write a comment
View comments

Write a comment

<

14 + 13 =