पहले से बाढ़ के हालात, अब और भारी बारिश की चेतावनी

DoThe Best
By DoThe Best July 30, 2015 12:51

पहले से बाढ़ के हालात, अब और भारी बारिश की चेतावनी

चार दिल से चल रही बारिश के बीच पहले से ही राजस्थान के कई जिले बाढ़ जैसे हालातों की चपेट में है, अब मौसम विभाग ने आने वाले 72 घंटों में और भारी बारिश की चेतावनी दी है। ऐसी स्थिति में मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने भी पूरे प्रदेश के अफसरों को अलर्ट रहने और हर तरह से राहत व रेस्क्यू के लिए सजग रहने के लिए कहा है। यह चेतावनी दक्षिण-पश्चिम के 11 जिलों के लिए दी गई है, जहां नदियां उफान पर हैं और कई लोग अब तक बह चुके हैं।
सांचौर में हालात विकट बने हुए हैं। सिरोही में जहां वर्षा का दौर जारी है, वहीं पाली में बारिश से रेल यातायात प्रभावित हुआ है। हाड़ोती में चंबल उफान पर है तथा टोंक जिले में बीसलपुर में पानी की आवक जारी है। माही बांध से फिर पानी छोड़ा गया है।
राज्‍य सरकार ने जिला कलेक्टरों को हाई अलर्ट कर दिया है। सिरोही, पाली, बांसवाड़ा, जालौर, बाड़मेर सहित 11 जिलों में भारी वर्षा की चेतावनी है। कुछ जिलों में पिछले 24 घंटों में 100 से 400 मिमी बारिश हुई है। पाली में जयपुर बांद्रा सहित आठ ट्रेनें प्रभावित हुई हैं। रेल प्रशासन यातायात सामान्य करने में लगा हुआ लेकिन उसका कहना है कि कुछ ट्रेनों को डायवर्ट किया जाएगा वहीं कुछ रद्द किया जाएगा।
जयपुर में भी तेज बारिश
जयपुर में सुबह से बादल छाए हुए थे, इसके बाद दोपहर में तेज बारिश से जनजीवन प्रभावित रहा। तापमान 26 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है। रात में तेज बारिश की संभावनाएं जताई जा रही हैं।
सांचौर में हालात विकट
भारी बारिश के कारण जोधपुर संभाग के जालोर जिले के सांचौर में बाढ़ से हालात विकट बने हुए हैं। कई गांवों का संपर्क पूरी तरह से कटा हुआ है। दूसरी तरफ नर्मदा नहर के टूटने के कारण कई गांवों में पानी भर गया है। वहीं जोधपुर में सुबह हुई रिमझिम बारिश के दौर के बाद शहर के लोगों को दो दिन बाद सूर्यदेव के दर्शन नसीब हुए।
राज्‍य के बांधों की स्थिति
-पांचला बांध फूटने से सांचौर में पांच फीट तक भरा पानी
-पाली में हेमावास बांध पर चादर चली
कोटा बैराज बांध के 13 गेट से 236400 क्यूसेक पानी छोड़ा,
माही बजाज सागर के 16 गेट से 210500 क्यूसेक पानी छोड़ा,
जवाहर सागर के 8 गेट 274000 क्यूसेक पानी छोड़ा
राणा प्रताप सागर के 8 गेट खाेलकर 238320 क्यूसेक पानी छोड़ा
आनासागर झील के 3 गेट खोल दिए
मेवाड़ में मूसलाधार से मदार छोटा, सोमकागदर और टीडी डैम छलके
प्रतापगढ़ में 9 बांध लबालब
बाड़मेर से गुजरात का संपर्क कटा
सरकार ने सेना की 61 वीं सब एरिया जयपुर एवं जोधपुर, सब एरिया कोटा ब्रिगेड को अलर्ट कर दिया है। एनडीआरएफ के 40 कार्मिकों की टीम, तीन नावें झालावाड़ तथा 120 कार्मिकों की तीन टीमें 15 बोट जालोर में तैनात की गई हैं। सांचोर में बाढ़ से बाड़मेर का गुजरात से संपर्क कट गया है। जालोर में बुधवार को भी स्कूल नहीं खुलेंगे। सांचौर-आबूरोड में छह जने बह गए।
भीनमाल में सड़कों पर पानी भरा गया। पाली जिले में तीन एनीकट टूट गए। समदड़ी-भीलड़ी रेलखंड मंगलवार को दूसरे दिन भी बंद रहा। बाड़मेर के नौ ब्लॉकों में स्कूलों में छुट्टी रही। उदयपुर के कोटड़ा में 4, सोमकागदर में साढ़े 3 और सलूंबर में 2 इंच बरसात रिकॉर्ड की गई।
बूंदी में बड़ाखेड़ा-लाखेरी रोटेदा-मंडावरा मार्ग की पुलियाओं सहित मेज नदी की पुलिया पर उफान से रास्ता अवरुद्ध हो गया। कोटा-श्योपुर सड़क मार्ग आठ दिन से बंद है।
DoThe Best
By DoThe Best July 30, 2015 12:51
Write a comment

No Comments

No Comments Yet!

Let me tell You a sad story ! There are no comments yet, but You can be first one to comment this article.

Write a comment
View comments

Write a comment

<

19 − 12 =