उत्तर प्रदेश एफडीए ने 2014 बैच के मैगी को वापस लेने का निर्देश नेस्ले इंडिया को दिया

DoThe Best
By DoThe Best May 22, 2015 10:56

उत्तर प्रदेश के खाद्य सुरक्षा एवं दवा प्रशासन (एफडीए) ने नेस्ले इंडिया से मैगी नूडल्स के एक बैच को बाजार से वापस लेने का निर्देश 20 मई 2015 को दिया. इसका कारण इस बैच में सीसे की उच्च मात्रा का पाया जाना रहा.

उत्तर प्रदेश एफडीए ने यह आदेश मैगी नूडल्स के 2014 के बैच के संदर्भ में दिया है. उत्तर प्रदेश के फूड सेफ्टी एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (एफडीए) ने कहा कि नेस्ले इंडिया की ओर से बनाए गए मैगी के दर्जनों पैकेट में नियमित जांच के दौरान सीसा की अत्यधिक मात्रा पाई गई.

एफडीए के अनुसार मैगी के सभी पैकेटों को सरकारी लैब में टेस्ट किया गया. जांच के दौरान इसमें सीसा की मात्रा 17.2 पीपीएम पाई गई, यह निर्धारित मात्रा से सात गुना अधिक है. मैगी में सीसा की स्वीकार्य मात्रा 0.01 से 2.5 पीपीएम है.

जांच के दौरान स्वाद बढ़ाने वाले मोनोसोडियम ग्लूटामेट की भी बहुत अधिक मात्रा पाई गई.

नेस्ले इंडिया
नेस्ले इंडिया स्विस समूह नेस्ले एसए की एक सहायक कंपनी है.  यह नूडल्स, कैचप, सॉस, सूप और अन्य चीजें मैगी ब्रांड के तहत बेचती हैं. नूडल श्रेणी के बाजार में लगभग 60 प्रतिशत हिस्से पर इसका अधिकार है. इस कंपनी की स्थापना हेनरी नेस्ले ने वर्ष 1866 में स्विट्जरलैंड के वेवे में की थी.
भारत में नेस्ले इंडिया के पास आठ उत्पादन कंपनियां हैं.

नेस्ले इंडिया का मुख्यालय हरियाणा के गुडगांव में अवस्थित है.

DoThe Best
By DoThe Best May 22, 2015 10:56
Write a comment

2 Comments

  1. DoTheBest May 25, 22:24

    तीन युद्ध

    Reply to this comment
  2. DoTheBest May 25, 22:26

    नेस्ले

    Reply to this comment
View comments

Write a comment

<

9 + seven =